3 March 2024

आदिवासियों की फिर सुरक्षित नहीं जमीन –लोबिन हेंब्रम

0
सोशल मीडिया में शेयर करे

झामुमो के वरिष्ठ विधायक लोबिन हेंब्रम ने रांची में पुराने विधानसभा के अपने विधायक आवास में प्रेस वार्ता कर सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने बताया कि आज सरकार विधानसभा स्थापना दिवस पर करोड़ों रुपए खर्च कर रही है. लेकिन यहां के आदिवासी दलित की जमीन बचाने के लिए सीएनटी-एसपीटी एक्ट नहीं बनाया और ना ही युवाओं की नौकरी के लिए एक भी परीक्षा आयोजित की.

आदिवासियों की जमीन अब सुरक्षित नहीं

उन्होंने कहा कि 23 साल राज्य अलग हुए हो गए आदिवासी मुख्यमंत्री होने के बावजूद भी जमीन सुरक्षित नहीं है. जब जमीन सुरक्षित नहीं रहेगा तो आखिर आदिवासी कैसे बचेगा आज भाषा संस्कृति सब खतरे में है. आज तक झारखंड में स्थानीय नियोजन नीति नहीं बनी, आदिवासी गरीबी हालत में अपने बच्चों को पढ़ा रहे हैं. लेकिन इस सरकार में 4 साल के कार्यकाल में एक भी वैकेंसी नहीं निकली. क्या इसीलिए आदिवासियों ने इस सरकार को चुना था.

इससे आगे लोबिन हेंम्ब्रम मे कहा, कभी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन खतियानी जोहार यात्रा निकालते हैं तो कभी सरकार आपके द्वारा लगाते हैं. ऐसा कहते हुए लोबिन ने सीएम पर निशाना साधा. लोबिन ने कहा, सरकार का कोई भी कार्य धरातल पर नहीं आया है, जिससे मुख्यमंत्री जनता के पास जा रहे हैं,यदि वे काम करते तो उन्हें नहीं जाना होता. कहा कि वक्त आ गया है अब कोई कदम उठाने का, हमारे लोग जल्द ही कोई निर्णय लेकर रास्ता निकालें

विजय हांसदा सांसद नहीं बल्कि ठेकेदार हैं – लोबिन

वहीं राजमहल से झामुमो के लोकसभा सांसद विजय हांसदा पर भी लोबिन ने हमला बोला. कहा कि अबकी बार जनता उन्हें सबक सिखाएगी, राज्य के लोग जाग चुके हैं और आने वाले समय में जबरदस्त जवाब मिलेगा. इससे आगे कहा कि एक अस्पताल तो विजय हांसदा ने बेच दिया, अभी क्या-क्या और भी बचेंगे क्योंकि वे सांसद नहीं ठेकेदार हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *